Monday, May 4, 2009

समय


समय
हँसता है
मुस्कुराता है
चीखता है
चिल्लाता है
रूठता है
मनाता है
लेकिन कभी
शांत नही रहता
चुप नही बैठता
क्यूंकि समय
हमें यही तो समझाता है
कि उससे आगे निकलने के लिए
ये गुण भी होने चाहिए!

Picture Courtsey: http://zacharybrown.files.wordpress.com/2008/10/harvest-time.jpg

11 comments:

  1. कल 07/06/2012 को आपकी यह पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  2. पर समय से आगे फिर भी कोई नहीं निकल पाता ...

    ReplyDelete
  3. वाह ... बेहतरीन ।

    ReplyDelete
  4. सच तो ये है की समय किसी को आगे जाने नहीं देता...

    अच्छी रचना...

    ReplyDelete
  5. samay se badhkar kuchh nahi..........behtarin

    ReplyDelete
  6. कल 07/10/2012 को आपकी यह खूबसूरत पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  7. सुंदर भाव। पढ़कर मन त्रिप्त हो गया कभी मेरे ब्लौग http://www.kuldeepkikavita.blogspot.com पर भीआना अच्छा लगेगा।

    ReplyDelete
  8. जीवन चलने का नाम .... सुंदर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  9. पर समय रुक नहीं पाता.................

    ReplyDelete
  10. वाह||
    बहुत बेहतरीन विचार...
    बहुत सुन्दर रचना...
    :-)

    ReplyDelete